''सद्भावना दर्पण'

दिल्ली, राजस्थान, उत्तरप्रदेश, मध्यप्रदेश आदि राज्यों में पुरस्कृत ''सद्भावना दर्पण भारत की लोकप्रिय अनुवाद-पत्रिका है. इसमें भारत एवं विश्व की भाषाओँ एवं बोलियों में भी लिखे जा रहे उत्कृष्ट साहित्य का हिंदी अनुवाद प्रकाशित होता है.गिरीश पंकज के सम्पादन में पिछले 20 वर्षों से प्रकाशित ''सद्भावना दर्पण'' पढ़ने के लिये अनुवाद-साहित्य में रूचि रखने वाले साथी शुल्क भेज सकते है. .वार्षिक100 रूपए, द्वैवार्षिक- 200 रूपए. ड्राफ्ट या मनीआर्डर के जरिये ही शुल्क भेजें. संपर्क- 28 fst floor, ekatm parisar, rajbandha maidan रायपुर-४९२००१ (छत्तीसगढ़)
&COPY गिरीश पंकज संपादक सदभावना दर्पण. Powered by Blogger.

''सद्भावना दर्पण'' अब मासिक / रचनात्मक सहयोग का आत्मीय -अनुरोध

>> Thursday, April 14, 2011

आत्मीय,
आपको यह जानकर ख़ुशी होगी, कि मैंने अपनी अनुवाद-पत्रिका ''सद्भावना दर्पण'' को -१४ साल तक त्रैमासिक चलाने के बाद- अब मासिक कर दिया है. हर महीने निकालने का संकल्प है. यह संकल्प इसलिये भी किया है, कि नेट के माध्यम से अनेक लेखक मेरे परम मित्र-स्नेही और शुभचिंतक बन गए है. इनमे आपका भी नाम है. मै चाहता हूँ, कि आपका रचनात्मक सहयोग मिले. 
-मुझे भारतीय एवं विश्व साहित्य की रचनाओं के हिंदी अनुवाद चाहिए.
-लोक भाषाओँ में लिखी गई रचनाएँ भी चलेंगीं.'
-हिंदीतर रचनाशीलता को हिंदी के माध्यम से सुधी पाठको तक पहुँचना मेरा उद्देश्य है. यह काम आपके सहयोग के बिना संभव नहीं.
-हिन्दी की स्तरीय मौलिक रचनाओं का भी स्वागत है.
लेकिन मेरी पहली प्राथमिकता अनुवाद ही है. फिर भी आप स्वतंत्र रूप से अपनी महत्वपूर्ण रचनाये भी भेज सकते हैं. लेखिकाओं से भी अनुरोध है. सबके लिए यह मंच खुला है. कुछ अनुवादकों के पते मिल सकें तो फ़ौरन उपलब्ध कराये. ब्लॉगर मित्रों से अनुरोध है, कि वे अपने पतें भेज दें, ताकि, उन्हें नमूने का एक अंक भेज दूं.
रचनाओं का पारिश्रमिक अभी संभव नहीं है, लेकिन लक्ष्य यही है, कि इसे मानदेय देने वाली पत्रिका बनाऊ.
आप अपनी रचनाएँ ईमेल से भेज दें स्वागत है. यूनीकोड में ही भेज दें, मै उसे ''चाणक्य'' फांट में बदल लूँगा..

आपके सहयोग की प्रतीक्षा में..इन पंक्तियों के साथ, कि
आपकी शुभकामनाएँ साथ हैं
क्या हुआ गर कुछ बलाएँ साथ हैं 
इस अँधेरे को फतह कर लेंगे हम 
रौशनी की कुछ कथाएँ साथ है.
हारने का अर्थ यह भी जानिए
जीत की संभावनाएं साथ हैं 

7 टिप्पणियाँ:

AJMANI61181 April 14, 2011 at 10:21 AM  

sir ji plz send me 1 copy of sadbhaavna darpan

my address is
CHARANDEEP AJMANI
c/o AJMANI AUTO CENTER
BUS STAND PITHORA
P.O.PITHORA 493551
DIST MAHASMUND

Dr Varsha Singh April 14, 2011 at 10:58 AM  

अच्छी खबर....

हार्दिक शुभकामनायें।

दीपक 'मशाल' April 14, 2011 at 11:14 AM  

Hardik badhai evam shubhkaamnaayen..

योगेन्द्र पाल April 14, 2011 at 1:03 PM  

आपको शुभकामनायें,

मुझे एक प्रति भेज दें, यदि ई-बुक होगी तो बेहतर होगा, मेरे ई-मेल yogendra.pal3@gmail.com पर भेज दें,


अपना ब्लॉग का नया रूप

ललित शर्मा April 14, 2011 at 9:55 PM  

हार्दिक शुभकामनायें।

राज भाटिय़ा April 16, 2011 at 12:12 PM  

हमारी शुभकामनाऎ, खुब उन्नति करे आप. धन्यवाद

गौरव शर्मा "भारतीय" April 17, 2011 at 9:13 AM  

प्रणाम,
सादर शुभकामनाओं के साथ अनुरोध है की एक प्रति मुझे अवश्य उपलब्ध कराएँ |
गौरव शर्मा "भारतीय"
"गौरव स्थल"
शुभाष नगर प्रोफ़ेसर कालोनी रायपुर {छ.ग}
09301988885

सुनिए गिरीश पंकज को

  © Free Blogger Templates Skyblue by Ourblogtemplates.com 2008

Back to TOP