''सद्भावना दर्पण'

दिल्ली, राजस्थान, उत्तरप्रदेश, मध्यप्रदेश आदि राज्यों में पुरस्कृत ''सद्भावना दर्पण भारत की लोकप्रिय अनुवाद-पत्रिका है. इसमें भारत एवं विश्व की भाषाओँ एवं बोलियों में भी लिखे जा रहे उत्कृष्ट साहित्य का हिंदी अनुवाद प्रकाशित होता है.गिरीश पंकज के सम्पादन में पिछले 20 वर्षों से प्रकाशित ''सद्भावना दर्पण'' पढ़ने के लिये अनुवाद-साहित्य में रूचि रखने वाले साथी शुल्क भेज सकते है. .वार्षिक100 रूपए, द्वैवार्षिक- 200 रूपए. ड्राफ्ट या मनीआर्डर के जरिये ही शुल्क भेजें. संपर्क- 28 fst floor, ekatm parisar, rajbandha maidan रायपुर-४९२००१ (छत्तीसगढ़)
&COPY गिरीश पंकज संपादक सदभावना दर्पण. Powered by Blogger.

करवा चौथ पर खास गीत सुहागिनों के लिए.. प्यार सलामत...

>> Tuesday, October 30, 2012

करवा चौथ पर खास गीत सुहागिनों के लिए..
प्यार सलामत...
----------------
ये सुन्दर घरबार सलामत
रहे हमारा प्यार सलामत..

तुम ही हो मेरे इक चन्दा
तुम बिन जीवन आधा है.
मरते दम तक साथ रहूँगी
मेरा तुमसे वादा है.
रहो सदा तुम सुखी ओ प्रियतम
रहे मेरा श्रृंगार सलामत..
रहे हमारा प्यार सलामत..

तेरे लिए मैं निर्जल हो के ,
निराहार भी रहती हूँ.
तुम हो मेरे प्रियतम तुमसे,
दिल की बातें कहती हूँ.
तुम हो तो यह जीवन मेरा,
लगता है उपहार सलामत...
रहे हमारा प्यार सलामत..

दुःख-सुख में हम साथ निभाएं,
यही चाहता मेरा मन.
तुम हो मेरे प्रियतम प्यारे,
तुम ही अनमोल रतन.
जनम-जनम का साथ रहे यह
एक नहीं सौ बार सलामत...

रहे हमारा प्यार सलामत..


11 टिप्पणियाँ:

dheerendra bhadauriya October 30, 2012 at 10:29 PM  

बहुत बेहतरीन प्रस्तुति,,,पसंद आई ,,,

RECENT POST LINK...: खता,,,

संगीता स्वरुप ( गीत ) October 30, 2012 at 11:22 PM  

बहुत सुंदर गीत ... सब सलामत रहे

वन्दना October 31, 2012 at 12:08 AM  

बहुत सुंदर गीत

संगीता पुरी October 31, 2012 at 12:18 AM  

बहुत प्‍यारा गीत ..

संगीता पुरी October 31, 2012 at 12:20 AM  

ब‍हुत प्‍यारा गीत ..

sushma 'आहुति' October 31, 2012 at 5:47 AM  

बहुत ही गहरे और सुन्दर भावो को रचना में सजाया है आपने.....

चन्द्र भूषण मिश्र ‘ग़ाफ़िल’ October 31, 2012 at 9:13 AM  

क्या बात है वाह बहुत ख़ूब पेशकश

यशवन्त माथुर (Yashwant Mathur) October 31, 2012 at 8:16 PM  

कल 02/11/2012 को आपकी यह खूबसूरत पोस्ट http://nayi-purani-halchal.blogspot.in पर लिंक की जा रही हैं.आपके सुझावों का स्वागत है .
धन्यवाद!

PRAN SHARMA November 1, 2012 at 10:49 AM  

karwachoth ke paavan din par komal
shabdon aur bhavon ne aapke geet ko
chaar chaand lagaa diye hai.

logo design Australia# December 25, 2012 at 8:45 PM  

very nice ...logo design Australia

specialty cakes December 26, 2012 at 3:09 AM  

The town of Brooklyn is no different. On any given period of the season, one will see numerous bakeries focusing in wedding desserts in Brooklyn, NYC.

सुनिए गिरीश पंकज को

  © Free Blogger Templates Skyblue by Ourblogtemplates.com 2008

Back to TOP